in

गुणियां गांव में संत ने की आत्महत्या

संत ने की आत्महत्या

सुरेश सुथार और ममता देवी दोनो पति पत्नी है और किशन गुर्जर ममता देवी का प्रेमी है इन सभी ने संत बाबा से 15 लाख रुपये मांगे जो की बाबा के पास नही थे इस के साथ पूजा गुर्जर ने भी बाबा से 10 लाख रुपये मांगे और बाबा ने कहा में तो भिकारी हु इतने पैसे कहा से लाऊँगा तो उन्होंने बाबा को ब्लैकमेल किया जिससे बाबा के पास और कोई रास्ता नही था सिवाय आत्महत्या करने के ( संत ने की आत्महत्या )

संत ने की आत्महत्या

ये दुर्घटना 26 मई 2020 मंगलवार की रात को हुई थी इस घटना से पहले बाबा ने अपनी सारी गवाई एक वीडियो के जरिये सरकार के लिए छोड़ गए थे( संत ने की आत्महत्या )

आखिर हुआ क्या था ?

गुणियां गांव में स्थित एक आश्रम में एक बाबा रहते थे उनका कहना है की 3 महीने पहले सुरेश सुथार और उसकी पत्नी दोनो बाबा के पास आये और बोले की बाबा मेरी पत्नी का पेट दर्द कर रहा है आप इसका कोई इलाज कीजिए बाबा ने कहा जरूर बाबा ने ममता देवी के पेट को की जाँच की और बाबा ने सुरेश सुथार से कहा की आप ऐसा काम करो की बाहर से ये जड़ी ब्यूटिया लेके आवो( संत ने की आत्महत्या )

सुरेश बाहर जड़ी ब्यूटिया लेने गया तब तक ममता देवी और बाबा यही आश्रम में थे और सुरेश जड़ी ब्यूटिया लेके आ गया बाबा ने ममता देवी का इलाज किया और ममता देवी स्वस्थ हो गई थी बाबा का कहना है की अब तीन महीने बाद सुरेश गुर्जर और उसकी पत्नी ममता देवी सुथार बाबा के पास आये

और बोले की आप हमे 15 लाख रुपये देवो नही तो हम सभी को ये बता देंगे की आप ने मेरी पत्नी का बलात्कार किया था बाबा घभराये हुए बोले ये क्या भकवास कर रहे हो अगर आप सच्चे हो तो ये बात 3 महीने पहले बोलनी चाहिए में तो भिखारी हु भीख मांग कर अपना आश्रम चलाता हु लेकिन वो मानने को नही थे उन्होंने बाबा को धमकी दी की ( संत ने की आत्महत्या )

संत ने की आत्महत्या

हमे 15 लाख रुपये चाहिए बाबा बताते है की जब बाबा ने SP के पास जाने की कोशिश की तो सरपंच और गुणियां गांव के निवासी मिलकर बाबा को आश्रम में ताला लगा के अंदर ही बंद कर दिया और बोल दिया की बाबा तो कई भाग गया बाबा का कहना है की आप गांव वालो से पूछो की ये आश्रम निर्माण में सरपंच साब या गांव वालो ने एक चवन्नी तक नही दी ये आश्रम बाबा ने भीख मांग मांग कर बनाया और भीख मांग कर ही आश्रम को चलाते है( संत ने की आत्महत्या )

बाबा ने जाते जाते और भी कुछ अपने सेवक के बारे में भी बताया उनका कहना है की मेरा जो सेवक है हीरा सुथार जो महाराज के लिए राशन सामग्री लाया करता था वो लोग उस को भी फसाना चाहते है जब की उस सेवक का किसी प्रकार से कोई दोष नही है बाबा का कहना है की हीरा सुथार बहुत ही अच्छा और सच्च इन्शान है उनका कहना है की हीरा जैसा लड़का कहि नही मिल सकता है बाबा का कहना है

ये लोग जो मेरे पास बाहर से लोग आते है उनको भी बदनाम करने की कोशिश करते है उन लोगो की कोई गलती नही है ये सब इसी सुरेश सुथार और इसके दल का काम है बाबा चाहते है की सरकार मुझे न्याय दिलाने की कोशिश करे में ये देखने के लिए तो नही आऊंगा पर हो सके ( संत ने की आत्महत्या )

तो इन लोगो को सजा देखे मुझे न्याय अवश्य दिलाये बस इतना बताते हुए बाबा ने आत्महत्या कर ली तो इस दुर्घटना से ये साफ साबित होता है की हिन्द धर्म में इन संतो की कोई रक्षा नही की जाती है

इस दुर्घटना में इन गुन्हेगारो को ऐसी सजा मिलनी चाहिए की ये तो क्या अखंड भारत में कभी कोई इंसान संतो को परेशान ना करे
( संत ने की आत्महत्या )

अगर इन लोगो को सजा नही मिली तो लोग ऐसे काम करने में जरा से भी डर महसूस नही करेंगे और अपने हिन्दुस्थान में हिन्दू धर्म के सेवक संतो को हानि पहुचती रहेगी ( संत ने की आत्महत्या )

संत ने आत्म हत्या करने से पहले अपनी एक विडियो बनाई थी जिसमे उन सभी लोगो के नाम बताये है संत ने जिन्होंने ये सब किया

आत्महत्या करने से पहले यह वीडियो रिकॉर्ड की थी महाराज ने
गुणियां गांव में स्थित एक आश्रम की ये दुर्घटना है जिसको अंजाम देने में काफी लोगो का हाथ है उनका नाम है
  1. सुरेश सुथार ये गुणियां से है
  2. ममता देवी सुथार ये भी गुणियां से ही है
  3. किशन गुर्जर ये नेगडिया खेड़ा से है
  4. पूजा गुर्जर ये आयोग विभाग से है
Disclaimer :- यह समाचार आगे से संतो द्वारा दिया गया है इस समाचार मैं rajasthanreport.com की कोई अहम भूमिका नहीं अर्ज की गयी है | आगे से आने पर इसे यहाँ प्रसारित किया गया है | धन्यवाद

What do you think?

14 points
Upvote Downvote

Written by priyanka singh

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0
Lockdown Guideline For 5

Lockdown Guideline For 5

कैसे भारतीय हिन्दुओ के त्यौहार से करोड़ो रुपये का फायदा कमाते है पाकिस्तानी मुस्लिम

कैसे भारतीय हिन्दुओ के त्यौहार से करोड़ो रुपये का फायदा कमाते है पाकिस्तानी मुस्लिम